जितना कठिन संघर्ष होता है, उतनी ही शानदार जीत होती है……3 साल में पदोन्नति देने के लिए शासन को सहमत करने में टीचर्स एसोशियेशन सफल रहा – संजय शर्मा

0
1025

जितना कठिन संघर्ष होता है, उतनी ही शानदार जीत होती है – संजय शर्मा

3 साल में पदोन्नति देने के लिए शासन को सहमत करने में टीचर्स एसोशियेशन सफल रहा – संजय शर्मा

एलबी संवर्ग शिक्षकों को पूर्ण पेंशन और क्रमोन्नति टीचर्स एसोशियेशन का लक्ष है – संजय शर्मा

टीचर्स एसोशियेशन द्वारा नव पदोन्नत प्रधान पाठकों के सम्मान समारोह

पेण्ड्रा / छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन जिला गौरेला पेंड्रा मरवाही द्वारा जीपीएम जिले में सहायक शिक्षक एलबी से प्राथमिक शाला प्रधान पाठक पर पदोन्नत वे शिक्षकों का सम्मान समारोह कार्यक्रम श्री जेपी पुष्प प्राचार्य डाइट के मुख्य आतिथ्य, श्री संजय शर्मा प्रांतीयअध्यक्ष की अध्यक्षता, श्री लखन लाल जाट वर जिला परियोजना अधिकारी, श्री मनोज सनाढ्य प्रांतीय सचिव श्री बसंत चतुर्वेदी प्रांतीय उपाध्यक्ष संभाग प्रभारी श्री गंगेश्वर सिंह उईके प्रांतीय प्रचार सचिव के विशिष्ट आतिथ्य में आयोजित हुआ प्रांत अध्यक्ष श्री शर्मा जी ने अपने उद्बोधन में कहा कि *जितना कठिन संघर्ष होता है उतनी ही शानदार जीत होती है। शून्य से शिखर तक और संविलियन से पेंशन तक टीचर्स एसोशियेशन का लक्ष है। 3 साल में पदोन्नति देने के लिए शासन को सहमत करने में सफल हुए। प्रधान पाठकों का सम्मान करते हुए हमे गर्व हो रहा है कि हमारे संगठन की मांग पर ही शासन ने वन टाइम रिलेक्सेशन के तहत पदोन्नति दी है*।

उपरोक्त बातें डाइट पेण्ड्रा के सभागार में जिला गौरेला पेण्ड्रा मरवाही के नव पदोन्नत प्रधान पाठकों के सम्मान समारोह को संबोधित करते हुए कार्यक्रम के अध्यक्ष व छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोशियेशन के प्रदेशाध्यक्ष संजय शर्मा ने कही। उन्होंने कहा कि आज से 12 साल पहले रायगढ़ और बलौदा बाजार में प्रधान पाठक की पदोन्नति हो गई थी। ऐसा सभी जगह होता तो हमारे कई साथी प्राचार्य पद तक पहुंच जाते। उन्होंने कहा कि प्रधान पाठक बनने से वेतन बढ़ा या नहीं बढ़ा, लेकिन पदोन्नति से पद बढ़ा, कद बढ़ा और सम्मान बढ़ा। उन्होंने कि सरकार से लक्ष्य हासिल करने के लिए तर्क, तथ्य और संघर्ष जरूरी है। 2018 से पहले की सेवा की गणना कराना हमारा लक्ष्य है। इस संबंध में जब हम सरकार के समक्ष तर्क पेश करते हैं कि जिस स्कूल में सेवा दिए वो स्कूल किसका था, कौन भर्ती किया था, कौन वेतन देता था तो इस तर्क से शासन के अधिकारी निरुत्तर हो जाते हैं। उन्होंने कहा कि पदोन्नति के लिए पद रिक्त नहीं होने पर पदोन्नत कर्मचारी के समान वेतन के लिए ही क्रमोन्नति दिया जाता है, जिसे सभी साथियों को दिलाने के लिए संगठन प्रयत्नशील है। पुरानी पेंशन योजना को पूर्ण पेंशन के रुप में लेने की लड़ाई लड़ना है। संजय शर्मा ने कहा कि 20 वर्ष की सेवा पूर्ण करने पर पूरा पेंशन देने की मांग शासन से की जा रही है क्योंकि ऐसी पेंशन व्यवस्था केन्द्रीय कर्मचारियों के साथ ही उत्तर प्रदेश सरकार में भी लागू है जो कि छत्तीसगढ़ में भी लागू होना चाहिए। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डाइट प्राचार्य जेपी पुष्प ने समस्त नव पदस्थ प्रधान पाठकों को बधाई दिया और उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की।

कार्यक्रम को प्रांतीय पदाधिकारी मनोज सनाडय, बसंत चतुर्वेदी, जिलाध्यक्ष मुकेश कोरी, लखन लाल जाटवर, सत्य नारायण जायसवाल, गंगेश्वर उइके ने भी संबोधित किया। संचालन प्रांतीय पदाधिकारी दुर्गा गुप्ता एवं आभार प्रदर्शन ब्लॉक अध्यक्ष राकेश चौधरी ने किया। कार्यक्रम में संजय नामदेव, तरुण नामदेव, मीना शर्मा, भीष्म त्रिपाठी, लक्ष्मी शंकर गुप्ता, सूरज बिसेन, ज्योति दुबे, गुलाब दुबे, ईश्वर साहू, संतोष मांझी, किरण रघुवंशी, भारत सोनी, योगेंद्र राजपूत, रीना जायसवाल, मीना रौतेल, उज्ज्वल श्रीवास्तव, राजकुमार साहू, अशफाक मंसूरी, तेरसू राम चौधरी, राजेश सोनी, केपी राव, बनमाली वासुदेव, सुलोचना चौधरी, नेतराम प्रजापति, रेणुका केसरवानी, विशाल यादव, जवाहर नागवंशी, राजेंद्र मिश्रा, गीता दुबे, रिजवाना नुसरत, शैलेश राय, लखन सिंह करसाल, संतलाल करसाल, सुनीता साहू, संतोष सोनी, सुषमा पांडे, सत्यम श्रीवास्तव, तेजेश्वर पोट्टाम, राकेश मोर्चे, नंदिनी सिंह, सरस्वती मलागर, सुलोचना चौधरी, घनश्याम क्षत्री, विनोद तिवारी, सुखलाल लहरे, हरनाम सिंह पाव, अगनिया पांडव, यशोधरा मार्को, गायत्री ओट्टी, इरशाद अली, राकेश नामदेव, संग्राम सिंह राठौर, तरन्नुम जहां, अखिलेश्वर सोनवानी, परमानंद टंडन, श्रीनिवास पांडे, दिनेश पैकरा, कृष्ण कुमार मार्को, मोतीलाल राठौर, चंदूलाल सिंगरौल, लखन लाल साहू, रेवाराम घृतेश, नरेश पात्रे, डोमन काछी, नरेंद्र पैकरा, परसराम चौधरी इत्यादि सहित बड़ी संख्या में शिक्षक उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.