मानवीय संवेदना का निर्वहन करता हुवा टीचर्स एसोसिएशन परिवार….अधिकारों की मांग के साथ सामाजिक सरोकार की भूमिका में संगठन….अमित देवनाथ,भरत दुबे,साजिद भारती,ओ.पी.कैवर्त के नेतृत्व में अभियान…..दंतेवाड़ा के शिक्षकों ने बढ़ाया मदद का हाथ मासूम बच्चो के लिए 220084 रुपये का सहयोग

0
751

दंतेवाड़ा | छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन के प्रांतीय उपाध्यक्ष प्रवीण श्रीवास्तव,जिलाध्यक्ष उदयप्रकाश शुक्ला,जिला सचिव नोहर सिंह साहू,प्रमोद भदौरिया, कमल किशोर रावत,संरक्षक प्रमोद कर्मा,बी.तिरुपति, ओमन कौमार्य,रामगुलाल साहू,उपाध्यक्ष रविन्द्र पटेल,विनोद शर्मा,जी.आर.नाग,अजय साहू, ओमप्रकाश कैवर्त कोषाध्यक्ष, शैलेश परगनिया जिला महामंत्री शैनी रविंद्र ने बताया कि संगठन शिक्षकों के अधिकारों और समस्याओं के लिए सदैव संघर्ष करता है।इसके साथ ही साथ छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन सामाजिक सरोकार व मानवीय विषयो पर भी मदद के लिए हमेशा पूरे राज्य में आगे रहता है।बास्तानार ब्लॉक में पदस्थ शिक्षक भागीरथी ओगरे और उनकी धर्मपत्नी संतोषी ओगरे के कोरोना से असामयिक निधन हो जाने से उनके 5 व 3 वर्षीय संतान बेसहारा हो गए माता पिता का साया एक ही दिन में उठ जाना बहुत दुःखद कर देने वाली घटना थी माता पिता की कमी तो इस जग में कोई पूरी नही कर सकता लेकिन परिवार में वृद्ध दादी श्रीमती शांति ओगरे के अलावा कोई नही है घर की आर्थिक स्थिति भी अच्छी नही है इसे देखते हुए मदद के लिए टीचर्स एसोसिएशन दंतेवाड़ा के चारो ब्लॉक के ब्लॉक अध्यक्ष खोमेंद्र देवांगन, सुभाष कोडोपी, शंकर चौधरी,रमा कर्मा के द्वारा संगठन के ग्रुप में संगठन के सदस्यों से सहयोग की अपील करते हुए 03 दिवसीय अभियान चलाया गया और इन तीन दिनों में पीड़ित परिवार के खाते में जिले के शिक्षकों ने ऑनलाइन दो लाख बीस हजार चौरासी रुपये की सहायता भेजी

जिला मीडिया प्रभारी सूर्यकान्त सिन्हा ने बताया कि प्रदेश में अब तक कोविड -19 से संक्रमित होकर हमने करीब 400 से अधिक शिक्षक साथियो को खो दिया है व कई साथी संक्रमित हो चुके है जिसकी सुध लेना वाला कोई जिम्मेदार नही जिससे उम्मदी कि जा सके 50 लाख का बीमा लाभ मांग मांग कर शिक्षक हताश उदास हो चुके है अब शिक्षक इसकी उम्मीद भी छोड़ चुके है अनुकम्पा की इस्थिति भी चिंताजनक है।सरकार पीड़ित परिवार के लिए क्या मदद करेगी यह तो सरकार के ऊपर है लेकिन दंतेवाड़ा जिले के चारो ब्लॉक कुआकोंडा, कटेकल्याण, दंतेवाड़ा, गीदम के शिक्षकों ने हम क्या कुछ कर सकते है इस विचारधारा के साथ सहयोग के लिए हाथ बढाया। जिले के शिक्षकों ने कहा कि हम जानते है की बच्चो पर क्या बीत रही होगी ऐसे समय मे बच्चो के भरण पोषण के लिये हम सब से जो बन पाया सहयोग करने का प्रयास किया और अपील करते है अपने शिक्षक समाज परिवार से आप सभी मदद करे बस्तर जिला में जिलाध्यक्ष राजेश गुप्ता व रायगढ़ जिले में जिलाध्यक्ष नेतराम साहू के नेतृत्व में सहयोग हेतु चलाया जा रहा अभियान भी प्रेरणादायक है।

दंतेवाड़ा जिले के सभी विकास खंड के शिक्षक साथियों ने इस नेक कार्य में बढ़ चढ़कर भागीदारी निभाई है ,इसके लिए मैं सभी शिक्षक साथियों को तहे दिल से धन्यवाद देता हूं और आशा करता हु हमेशा आप सभी का सहयोग ऐसे संवेदनशील मामलों में बना रहेगा ।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.