पूर्व सेवा गणना शिक्षक मोर्चा ने बाईक रैली निकालकर सौंपा ज्ञापन

0
436

महासमुंद। प्रथम नियुक्ति तिथि से सेवा काल की गणना कर पूर्ण पेंशन देने, पेंशन निर्धारण के लिए केंद्र सरकार की तरह अर्हकारी सेवा 33 वर्ष के स्थान पर 20 वर्ष करने, वेतन विसंगति दूर करने, जनघोषणा पत्र के अनुसार क्रमोन्नत वेतनमान प्रदान करने, ओपीएस या एनपीएस विकल्प पत्र भरने में कम से कम 3 माह की समय देने की माँगो को लेकर हजारों की संख्या में शिक्षक एल बी संवर्ग द्वारा संजय कानन महासमुन्द से बाईक रैली निकालकर हाथों में तख्ती लिए अपने माँगो की आवाज को बुलंद करते हुए जिलाधीश महासमुन्द को माननीय मुख्यमंत्री जी के नाम का ज्ञापन सौंपा। स्थानीय संजय कानन में सरायपाली, बसना, पिथौरा, बागबाहरा, महासमुन्द से आये हुए मोर्चा के सदस्यों की सभा को मोर्चा के पदाधिकारियों ने संबोधित करते हुए कहा कि कोई भी साथी अधिकारियों के दबाव में आकर एनपीएस ओपीएस अपरिवर्तनीय विकल्प के चयन में जल्दबाजी न करें। पुरानी पेंशन योजना सरकार द्वारा 1 अप्रैल 2022 से लागू की गई है और हमारी नियमित नियुक्तियाँ 1998 से शुरू हुई है। विधिवत एनपीएस कटौती 2012 से शुरू हुई है। सरकार यह स्पष्ट करे कि 2018 के पूर्व की सेवाकाल की गणना से ही शिक्षा विभाग में संविलियन हुआ है तो फिर पुरानी पेंशन के लिए प्रथम नियुक्ति तिथि से सेवाकाल की गणना सम्बन्धी आदेश क्यों नहीं किया जा रहा है। मोर्चा ने कहा कि प्रथम नियुक्ति तिथि से सेवाकाल की गणना सम्बन्धी आदेश शीघ्र जारी किया जावे ताकि भ्रम की स्थिति दूर हो सके। जनघोषणा पत्र के अनुसार क्रमोन्नत समयमान वेतनमान आदेश भी शीघ्र जारी हो। वेतन विसंगति दूर करने, पेंशन की अर्हकारी सेवा 20 वर्ष की जाने सम्बन्धी आदेश शीघ्र जारी किया जावे। संजय कानन में सभा पश्चात शिक्षकों ने श्री हनुमान मंदिर लभरा से पूजा अर्चना कर बाईक रैली का शुभारंभ किया। बाईक रैली खैरा चौक, बरोंडा चौक, नेहरू चौक, अम्बेडकर चौक, जिला अस्पताल खरोरा से होते हुए वापस बरोंडा चौक से कलेक्टोरेट पहुँची तथा माँगो के सम्बंध में ज्ञापन देकर जिला संयोजकों द्वारा उपस्थित साथियों को धन्यवाद देकर कार्यक्रम का समापन किया गया। आज के कार्यक्रम में नारायण चौधरी, सुधीर प्रधान, शोभा सिंहदेव, पूर्णानंद मिश्रा, केशवराम साहू, अर्चना तिवारी, रूपानंद पटेल, नरोत्तम चौधरी, विजय धृतलहरे, राजेश साहू, महेंद्र चौधरी, अरुण प्रधान, ललित साहू, मनीष अवसरिया, नंदकुमार साहू, सादराम अजय, लालजी साहू, विजय प्रधान, नीलाम्बर नायक, लवकुमार पटेल, अनिल साव, ऋषि प्रधान, प्रदीप वर्मा, सालिकराम साहू, विकास साहू, कौशल चन्द्राकर, कौशल साहू, देवेंद्र चन्द्राकर, सोमनाथ चौहान, गौरीशंकर पटेल, कौतुक पटेल, लक्ष्मणदास मानिकपुरी, कैलाश पटेल, राधेश्याम पटेल, गजानंद भोई, हेमंत दास, उस्ताद अली, राजेश पटेल, केदार प्रधान, दरस राम पटेल, लोकेश पात्र, प्रदीप पटेल, दुष्यंत पटेल, घनश्याम दास, चरण साहू, ललित भोई, दीपक पटेल,खिलावन वर्मा, मनीषा सोनी,अनूप नायक, मानसी अग्रवाल, सम्पा बोस, भुवेश्वरी साहू, खेमिन साहू, रूखमणी साहू, सुधा गोस्वामी, जागेश्वर सिन्हा, जगदीश सिन्हा, तुलेंद्र सागर, राजेन्द्र पाण्डे, केवल साहू, शिवनारायण द्विवेदी, अरविंद द्विवेदी, भोपाल बंजारा, अंकित चन्द्राकर, लक्ष्मीधर चन्द्राकर, खगेश्वर पटेल, पवन यादव, ईश्वरी साहू, अरूप प्रधान सहित हजारों की संख्या में शिक्षकों ने अपने माँगो के समर्थन में आवाज बुलंद की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.