शिक्षा कर्मियों के समस्या के निराकरण करने दो दिग्गज मिले… वीरेंद्र दुबे और चन्द्रदेव राय ने कहा शिक्षक और स्कूल समस्या विहीन हो…शिक्षा कर्मियों की समस्याओं के निराकरण करने CM से संघ प्रमुखों की होगी मुलाकात

0
894

रायपुर 30 जनवरी 2019। लम्बित अनुकम्पा नियुक्ति,सबका संविलियन हो पहले तब हो सीधी भर्ती और वेतन विसंगति,क्रमोन्नति को लेकर वीरेंद्र दुबे अब भी मुखर… दुबे ने जताया उम्मीद कि इसके समाधान को लेकर मुख्यमंत्री जी करें शिक्षाकर्मी संघ प्रमुखों से मुलाकात,इसके लिए हमारे आंदोलनो के सहभागी चन्द्रदेवराय करें शासन के साथ सेतु का काम, लोकसभा चुनाव के पहले ही शासन किसानों की तरह शिक्षाकर्मियों को भी दे सौगात..!!

केवल सहायक शिक्षक पद पर ही हो सीधी भर्ती,शिक्षक-व्याख्याता-प्राचार्य/प्रधानपाठक पदों पर हो 100% पदोन्नति क्योंकि हजारों योग्यताधारी शिक्षक/शिक्षाकर्मी वर्षो से कर रहे पदोन्नति का इंतजार

शिक्षाकर्मियों के समस्त आंदोलनों के प्रान्तीय संचालक रह सांगिक रूप से नेतृत्व प्रदान करने,और आशातीत सफलताओं को प्राप्त करने वाले वीरेन्द्र दुबे और चन्द्रदेवराय की अहम मुलाकात वीरेन्द्र दुबे के रायपुर स्थित निवास पर हुई। गौरतलब है कि चन्द्रदेवराय विधानसभा चुनाव में बिलाईगढ़ से भारी मतों से चुनाव जीतकर विधायक बन चुके हैं और वर्तमान सरकार का हिस्सा हैं,इसलिए भी यह मुलाकात विशेष रहा।

विधायक चन्द्रदेवराय और शालेय शिक्षाकर्मी संघ के प्रांताध्यक्ष वीरेंद्र दुबे की हुई यह अहम भेंट शिक्षाकर्मियों के मन मे एक सुखद आस भी जगा रही है क्योंकि दोनों ने औपचारिक वार्तालाप के अलावा शिक्षाकर्मियों की समस्याओं और उनके समाधान पर विस्तृत चर्चा की।

*वीरेंद्र दुबे ने किसानों की तरह शिक्षाकर्मियों की समस्याओं का भी समाधान लोकसभा चुनाव के पहले समाप्त करने का आग्रह शासन से करते हुए कहा किव उम्मीद करते हैं भाई चन्द्रदेवराय जी विधानसभा और आगामी बजट में हमारी समस्या समाधान को प्रमुखता से रखेंगे।

शिक्षाकर्मी गलियारे में दोनो दिग्गजों की मुलाकात के कई मायने निकाले जा रहे, कुछ इसे सकारात्मक संकेत मान रहे हैं..!
तो कुछ इसे औपचारिक भेंट, किन्तु यह बात जरूर है कि शिक्षाकर्मियो के समस्याओं की अब तक हुई समाधानों में और शासकीयकरण की प्रक्रिया संविलियन तक इन दोनों नेतृत्वकर्ताओं की अहम भूमिका रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.