वनांचल में “प्रयास” संस्था के द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का किया गया आयोजन.. वनभोज के साथ गर्म कपड़े पाकर आनंदित हुए वनवासी

0
274

मुंगेली/ मुंगेली जिले की नई ऊर्जावान संस्था प्रयास अ स्माल स्टेप वेलफेयर सोसायटी के द्वारा दिनांक 23 दिसम्बर के द्वारा जगन्नाथ मल्टीस्पेश्यलिटी हास्पिल रायपुर के सहयोग से मुंगेली जिले के अचानकमार अभ्यारण के घने सुदुर जंगल में रहने वाले बैगा जनजातियों के एकदिवसीय निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजन वनग्राम औरापानी में किया गया। जिसमें वनग्राम औरापानी, पटपरहा, सलगी, बोइरहा,राजक गांवों के लगभग 250 से अधिक लोगों का जांच किया गया। संस्था प्रयास के द्वारा वनभोज एवं सामग्री वितरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया।
हमारे छत्तीसगढ़ के बैगा जनजाति के लोगों को हमारे देश के राष्ट्रपति के दत्तक पुत्र घोषित किया गया है । जंगल के अंदर सुदूर वनांचल गांव में रहने वाले ये बैगा जनजाति के लोग जिनके पास आज भी सड़क , बिजली , शुद्ध पानी , स्वास्थ्य, शिक्षा जैसे बुनियादी सुविधाओं की कमी है।

  प्रेम व सम्मान पाकर आनंदित हुए       आदिवासी

बैगा आदिवासियों को सहयोग प्रदान के उद्धेय संस्था प्रयास अ स्माल स्टेप वेलफेयर सोसायटी के द्वारा लोरमी विकासखंड के 5 वनांचल गांवों के लोगों के लिए श्री जगन्नाथ मल्टीस्पेसियालिटी हॉस्पिटल के सहयोग से निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर और संस्था के सहयोग से लोगों के लिए गर्म कपड़े, कम्बल, ऊनी टोपी, स्कूली बच्चों के लिए जूते वितरण कर शिविर में उपस्थित सभी लोगों के लिए भोजन का आयोजन किया गया । 

संस्था के प्रमुख ने बताया कि हमारी संस्था प्रयास अ स्माल स्टेप के सदस्यों के द्वारा औरापानी ,पटपरहा, सलगी, बोइरहा, राजक गांवों के 500 लोंगों के लिए निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर के साथ वनभोज का आयोजन किया गया। इस वनभोज में बैगा आदिवासियों के हलुआ, पुडी, चांवल, दाल एवं सब्जी के आनंद लिया। वनभोज के बाद संस्था के सदस्यों के द्वारा बैगा आदिवासियों को 1000 कम्बल, 100 जुते, खिलौने, बर्तन और बहुत से दैनिक उपयोग के कपड़ों का वितरण किया गया। उक्त कार्यक्रम में स्थानीय विधायक धर्मजीत सिंह भी शामिल हुए एवं संस्था के सभी सदस्यों को आयोजन के लिए शुभकामनाएं दी। इस दौरान बैगा आदिवासियों के द्वारा पारम्परिक बैगा एवं सुवा नृत्य प्रस्तुत किया गया, जिसका आनंद आसपास उपस्थित सभी लोगों व संस्था के सदस्यों ने लिया।
जगन्नाथ मल्टीस्पेश्यलिटी हाॅस्पिटल के जनरल मैनेजर आकाश गुप्ता के बताया कि निःशुल्क चिकित्सा शिविर 250 लोगों की जांच कर मुक्त दवाई बांटी गई। जांच के दौरान 60 प्रतिशत से अधिक लोगों में अंडर वेट (कुपोषित), 30 प्रतिशत में दमा एवं टी.वी. की शिकायत सामने आई, जिसका प्रमुख कारण शिक्षा के क्षेत्र में पिछड़ेपन के कारण अधिकांस लोगों को बीड़ी, गांजा, और कच्ची शराब जैसे हानिकारक नशा के आदि पाया गया। इन लोगों को ग्रसित बीमारियों से बचने के लिए आवश्यक दवाई तथा उपाय बताया गया।
उक्त आयोजन में रामकिंकर सिंह परिहार, सतपाल मक्कड़, देवशंकर श्रीवास्तव, संजय सिंह, भूपेन्द्र सिंह, अजय ताम्रकार, विवेक केशरवानी, राजेन्द्र देवांगन, विकास जैन, राजेन्द्र जायसवाल, मनीष सिंह बैंस, विनोद गोयल, आशीष सोनी, टी.एस.परिहार, बड़े ताम्रकार, अभिताभ वैष्णव, हेमन्त देवांगन, सुनील वाधवानी, विश्वनाथ शर्मा, संजय उपाध्याय उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.