पुरानी पेंशन के लिए 1 लाख 40 हजार कर्मचारियो ने विरोध में काली पट्टी लगाया

0
1194

पुरानी पेंशन बहाली मोर्चा छत्तीसगढ़ (OPS MORCHA CHHATTISGARH) के प्रदेश संचालक संजय शर्मा, उपसंचालक हरेंद्र सिंह, देवनाथ साहू, बसंत चतुर्वेदी, प्रवीण श्रीवास्तव, विनोद गुप्ता, मनोज सनाढ्य, शैलेन्द्र पारीक, सुधीर प्रधान, विवेक दुबे ने बताया कि नेशनल मूवमेंट फॉर ओल्ड पेंशन स्कीम के राष्ट्रीय अध्यक्ष विजय कुमार बंधु के राष्ट्रीय आह्वान को समर्थन करते हुए पुरानी पेंशन बहाली की मांग को लेकर पूरे छत्तीसगढ़ प्रदेश में 01 जनवरी 2019 को काली पट्टी लगाकर काला दिवस (विरोध दिवस) मनाया गया है।

ज्ञात हो कि छत्तीसगढ़ में 1998 से नियुक्त शिक्षा कर्मी व 2004 के बाद नियुक्त समस्त विभाग के कर्मचारियो, अधिकारियो व शिक्षकों के लिए एन पी एस लागू किया गया है। NPS की राशि को विनियोग किया जाता है,,साथ ही सेवानिवृति पर कर्मचारी, अधिकारी की जमा राशि का अधिकांश भाग रोककर रखा जाता है, और प्रतिमाह पेंशन भी देय नही होता है,,साथ ही दी जा रही राशि मे टेक्स भी लगाया जाता है,,जिससे कर्मचारी, अधिकारी का जीने का सहारा ही समाप्त हो जाता है।

NPS बाजार व्यवस्था पर आधारित है, जिसमें सेवानिवृति पर मात्र आंशिक राशि ही प्राप्त होती है, अतः अपने सेवा के बाद सुखद भविष्य हेतु नियमित मासिक वित्तीय (पेंशन) व्यवस्था हेतु पुरानी पेंशन बहाली की मांग को लेकर छत्तीसगढ़ के सभी जिले में 1 लाख 40 हजार शिक्षक, कर्मचारी, अधिकारी बाह में काली पट्टी बांधकर अपने कार्यरत शाला / संस्था / कार्यालय में 01 जनवरी 2019 को विरोध (काला दिवस) मनाये।

ज्ञातव्य है अभी से 15 वर्ष पूर्व 1 जनवरी 2004 को पुरानी पेंशन व्यवस्था को बंद कर बाजार आधारित नेशनल पेंशन स्कीम NPS को अपनाया गया है,,इसमें नियमित पेंशन की व्यवस्था नही है,,जिसके कारण ही पेंशन विहीन शिक्षक, कर्मचारी व अधिकारियो द्वारा nps का विरोध कर पुरानी पेंशन स्कीम को लागू किये जाने की मांग की जा रही है।

पुरानी पेंशन बहाली मोर्चा छत्तीसगढ़ OPS MORCHA CHHATTISGARH के प्रदेश संचालक संजय शर्मा द्वारा प्रदेश के सभी जिले में उप संचालक, सभी संभाग में संचालक व सभी जिला में संचालक नियुक्त किया गया है,,जिसके तहत पूरे छत्तीसगढ़ में संगठित होकर विरोध करते हुए काली पट्टी लगाकर अपने दायित्व का निर्वहन किया गया है।
आने वाले समय मे आगे की रणनीति बनाकर सभी विभागों को साथ लेकर प्रदर्शन किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.