विकास खण्ड बिल्हा ने नम आंखों से श्रृद्धांजलि अर्पित कर हवन शांति पाठ कराया…..कोरोनाकाल में आकस्मिक निधन होने पर शिक्षक परिवार ने नम आंखों से श्रृद्धांजलि दी

0
296

 बिल्हा। कोरोनाकाल में असमय मृत्यु प्राप्त करने वाले हमारे शिक्षक साथी और उनके परिवार के सदस्य जिन्हें बिल्हा विकास खण्ड शिक्षा विभाग बिलासपुर ने श्रृद्धांजलि दी, जिनमें कृष्णा मिश्रा,कुशल कौशिक, योगेश पाण्डेय, रुपचंद कौशिक, नरेंद्र उपाध्याय,अल्का दुबे, सुधीर कौशिक, संजना सूर्यवंशी, माधुरी शर्मा, नरेंद्र चौधरी,शीला कश्यप, संतोष मनहर, संतोषी मनहर, ईश्वर साहू, नमिता प्रकाश,प्रभाषिनी जेम्स, विष्णु सारथी, चमेली जोशी इनके नाम से श्रृद्धांजलि कार्यक्रम शांति पाठ और हवन कराया गया।

शिक्षा विभाग परिवार के द्वारा इस महामारी काल में अपने खोये हुए साथियो एवं अन्य ज्ञात /अज्ञात व्यक्तियो की आत्मा की शांति हेतु हवन पूजन दान का बहुत की सकारात्मक भाव के साथ कार्यक्रम शिक्षा विभाग परिवार द्वारा आयोजित किया गया! कार्यक्रम कोविड प्रोटोकाल क़ो ध्यान में रखते हुए किया गया ! बी. ई. ओ. कार्यालय तिलकनगर में उक्त कार्यक्रम में बिल्हा जनपद पंचायत के उपाध्यक्ष विक्रम सिंह ठाकुर विशेष रूप से उपस्थित रहे और मृत परिवार के सदस्यों के लिए अपनी संवेदना व्यक्त की साथ ही साथ शिक्षा विभाग की इस पहल की सराहना की और कहां विषम परिस्थितियों में हम दुखी परिवार के साथ खड़े नहीं हो पाये लेकिन आज हवन पूजन और शांति पाठ करके हम अपनी श्रृद्धांजलि अर्पित कर पा रहे हैं एबीईओ मुकेश मिश्रा पत्नी सहित हवन में मुख्य यजमान रहे और साथ में जय कौशिक ,केशव वर्मा, योगेश पाण्डेय, सुनील पाण्डेय,विजय तिवारी,डिलेश्वर कंगण, ज्ञानेंद्र राय, रंजीत बनर्जी,साधेलाल पटेल,आकाश गढ़ेवाल, हरिशंकर देवांगन, मनोज सिंह, राजेश गुप्ता, राकेश शुक्ला,संजय यादव, राजेन्द्र साहू, अनिल शर्मा,जिलानी खान,यज्ञेश्वर उपाध्याय, चंद्रशेखर श्रीवास, कृष्ण कुमार सन्नाड,प्रमोद दुबे, गोपाल सिंह पेन्द्राम,डी. पी. कश्यप, शेषमणि कुशवाहा,प्रमोद कौशिक,भगवती देवांगन,डा.नवनीत कौशिक उपस्थिति रहे इस हवन पूजन कार्यक्रम को आचार्य कृष्ण चंद्र शर्मा जी ने सम्पन्न कराया मृत व्यक्ति के परिवार के सदस्यों ने भी इस हवन और शांति पाठ में भाग लिया।
सभी शिक्षकों ने ऐसे कार्यक्रम की अंत:भाव से सराहना की जिससे अपने निजी लोगों के मृत्यु होने पर उन्हें श्रद्धांजलि करने का अवसर मिला क्योंकि कोरोनाकाल में लाकडाउन के कारण बहुत से लोग अपने भाई, मित्र,संबंधी और शाला परिवार के साथ नहीं जा पाये थे इस कार्यक्रम के लिए बहुत अच्छा प्रयास एबीईओ मुकेश मिश्रा सर ने की सभी ने इस पहल की सराहना की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.