जब CM भूपेश बघेल ने कहा-सरकार बनाने में शिक्षा कर्मियों ने मदद की है…बहुत जल्द पूरी होंगी मांगे…

0
5576

रायपुर 27 जुलाई 2018।नई सरकार के गठन के साथ ही शिक्षाकर्मी अपनी मांग को लेकर मेल-मुलाकात करना शुरू कर दिए हैं। कल 27 दिसम्बर को छग सहायक शिक्षक फेडरेशन के प्रतिनिधि मण्डल राजधानी रायपुर के पहुना में प्रदेश के मुख्यमंत्री माननीय भूपेश बघेल से मुलाकत करने विभिन्न सम्भाग से रायपुर पहुंचे और उन्होंने मुख्यमंत्री से मुलाकात किये तथा प्रांतीय संयोजक मनीष मिश्रा,जाकेश साहू और सीडी भट्ट ने पुष्प गुच्छ भेंट किया वही बसन्त कौशिक,अश्वनी कुर्रे,हुकेश चन्द्राकर ने मुख्यमंत्री का माल्यापर्ण कर तथा शिव सारथी ने शाल ओढाकर सम्मान व अभिवादन किया उसके बाद संयोजको ने मांग पत्र सौपते हुए प्रदेश के 1 लाख 9 हजार सहायक शिक्षको को वेतन विसंगति से मुक्त कर 9300+4200 ग्रेड पे सहित सभी का संविलियन,पदोन्नति से वंचित और 10 वर्ष की सेवा अवधि पूर्ण कर चुके समस्त शिक्षक पँचायत संवर्गो को क्रमोन्नत वेतनमान का लाभ देने 2010 से मृत शिक्षाकर्मीयो के परिजनों/आश्रितों को अनुकम्पा नियुक्ति की माँग किये जिस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनाने में छग सहायक शिक्षक फेडरेशन ने बहुत ज्यादा मदद किया है और वर्ग 3 से सम्बंधित माँगो को घोषणा पत्र में शामिल किया गया है जिसे जल्द ही पूरा किया जाएगा।
फेडरेशन के प्रांतीय संयोजक शिव सारथी मनीष मिश्रा,जाकेश साहू ,सीडी भट्ट,अश्वनी कुर्रे,ने बताया कि राज्य सरकार जल्द ही हमारी माँगो को पूरा करने का बड़ा एलान कंरेंगे ।उन्होंने बताया कि अगर मुख्यमंत्री हमारी माँगो को मान लेते है तो उनके सम्मान में हम भव्य समारोह कर उनका अभिनन्दन कार्यक्रम रखेंगे। यह कार्यक्रम इतना भव्य होगा कि पूरा प्रदेश देखेगा।
छोटे लाल साहू,बसन्त कौशिक,हुलेश चन्द्राकर,शैलेन्द्र साहू, ने कहा कि शिक्षाकर्मी विगत 23 सालों से अपने अधिकार के लिए संघर्षरत रहा हैं इस संघर्ष का ही परिणाम है कि कुछ हद तक इनकी मांग पूरा हुआ है पर आज भी शिक्षाकर्मी वर्ग 3 जो शिक्षको की बड़ी आबादी है आपने वास्तविक अधिकार से वंचित है यही वजह था कि शिक्षाकर्मी वर्ग 3 अपने सारे पुराने संघो से नाता तोड़कर छग सहायक शिक्षक फेडरेशन के बैनर तले विधानसभा चुनाव के पहले वृहद आंदोलन कर कांग्रेस के पक्ष में माहौल बनाये ।इसी आंदोलन की वजह से शिक्षाकर्मीयो के पुराने नेताओं से नाराज होने के बावजूद कांग्रेस पार्टी ने अपने चुनावी घोषणा पत्र में इनके संविलियन और क्रमोन्नति सहित अन्य मांगों को शामिल किया इसका सुखद परिणाम भी उन्हें मिला हैं। प्रदेश के 1 लाख 9 हजार वर्ग 3 शिक्षाकर्मीयो ने अपने परिवार और रिस्ते नाते सहित बीजेपी के विरोध में कांग्रेस को वोट देकर प्रदेश की सत्ता से बीजेपी को चलता कर दिया इसी के चलते अन्य कारण सहित शिक्षाकर्मीयो के आंदोलन के कारण छग में कांग्रेस को सरकार बनाने में प्रचंड मतों से 68 सीटो के साथ मदद मिली। अब ऐसे में प्रदेश सरकार से इनकी उम्मीदे और भी बढ़ गयी है अगर शासन इनकी मांगे मान लेती है तो निश्चित ही आगामी लोकसभा चुनाव आसान होगा।
आज के इस प्रतिनिधि मंडल में मुख्य रूप से फेडरेशन के प्रांतीय संयोजक शिव सारथी,जाकेश साहू,मनीष मिश्रा,अश्वनी कुर्रे, सीडी भट्ट,बसन्त कौशिक,हुलेश चन्द्राकर,छोटे लाल साहू, सुखनन्दन यादव,शैलेन्द्र साहू, सहित बड़ी संख्या में पदाधिकारीगण उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.