उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल का शिक्षाकर्मियों ने किया बिलासपुर एवं सक्ती में भव्य स्वागत… जनवरी माह में ही घोषणा पत्र में उल्लेखित शिक्षा कर्मियों की मांगों को पूरा करने का किया मांग

0
2334

 उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल का शिक्षाकर्मियों ने किया बिलासपुर में भव्य स्वागत… जनवरी माह में ही घोषणा पत्र में उल्लेखित शिक्षा कर्मियों की मांगों को पूरा करने का किया मांग

27 दिसंबर 2018।छत्तीसगढ़ सरकार में मंत्री पद की शपथ लेकर राजधानी रायपुर से अपने विधानसभा क्षेत्र खरसिया लौट रहे मंत्री उमेश पटेल का बिलासपुर स्टेशन में शिक्षाकर्मियों ने भव्य स्वागत किया . ढोल नगाड़े के साथ सैकड़ों की संख्या में पहुंचे शिक्षाकर्मियों ने मंत्री उमेश पटेल को फूल मालाओं से लाद दिया । स्वागत का आलम यह था कि महज 10 मिनट रुकने वाली ट्रेन 20 से 25 मिनट तक बिलासपुर स्टेशन पर खड़ी रही . मंत्री उमेश पटेल भी शिक्षाकर्मियों के इस शानदार स्वागत से अभिभूत नजर आए । शिक्षाकर्मी संघ ने उमेश पटेल को जीत की बधाई देते हुए घोषणा पत्र में शिक्षाकर्मियों के हित में किए गए वादों को जल्द से जल्द पूरा कराने की बात कही जिस पर उमेश पटेल ने संघ को आश्वासन दिया कि सरकार आपकी मांगों को लेकर गंभीर है और जिस गंभीरता से जनघोषणा पत्र में आपके द्वारा सुझाए गए विषयों को शामिल किया गया उसी तरह गंभीरता के साथ इसका क्रियान्वयन भी किया जाएगा।छ.ग.पं.न.नि.शिक्षक संघ- सक्ती, जिला- जांजगीर चाम्पा के पदाधिकारियों के ने भी उच्च शिक्षा मंत्री का किया स्वागत

छ.ग.पं.न.नि.शिक्षक संघ- सक्ती, जिला- जांजगीर चाम्पा के पदाधिकारियों के द्वारा माननीय कैबिनेट मंत्री महोदय श्री उमेश पटेल जी का प्रथम सक्ती आगमन पर संघ की ओर से सौजन्य भेंट कर फूल माला पहनाकर स्वागत किया गया।

इस अवसर पर महेन्द्र कुमार राठौर, महेन्द्र प्रताप सिंह राठौर, रविन्द्र राठौर, शैलेश देवांगन, लितेन दुबे, अनिल राठौर, यशवंत सिंह राठौर, मदनमोहन जायसवाल, प्रकाश चन्द्र राठौर, मुकेश सोनी, नारायण सिंह उरांव, सुरेन्द्र राठौर उपस्थित रहे।

छत्तीसगढ़ पंचायत नगरीय निकाय शिक्षक संघ की तरफ से तरफ से स्वागत करने वालों में प्रदेशाध्यक्ष संजय शर्मा, प्रदेश मीडिया प्रभारी विवेक दुबे , प्रदेश संगठन मंत्री वासुदेव पांडे, बिलासपुर जिला अध्यक्ष संतोष सिंह, जिला सचिव करीम खान, आदित्य पांडे, आशीष गुप्ता, सुभाष त्रिपाठी, राजेश पाण्डेय, सुनील पाण्डेय, कौस्तुभ पाण्डेय, राजेश मिश्रा, साधेलाल पटेल, प्रदीप पाण्डेय, नर्मदा गढ़ेवाल, दीपक चौधरी, आलोक पांडे, प्रणव तिवारी, सुरेश साहू, आलोक दुबे, सूरज छत्री असीम वर्मा समेत सैकड़ों शिक्षा कर्मी शामिल थे जिन्होंने कार्यवाही विवरण में 02 वर्ष पूर्ण करने पर संविलियन के विषय को शामिल किए जाने पर मंत्री जी का धन्यवाद व्यक्त करते हुए कहा है कि शिक्षाकर्मियो के लिए घोषणा पत्र में उल्लेखित विषय क्रमोन्नति, पदोन्नति, पेंशन, अनुकम्पा नियुक्ति को कार्ययोजना में शामिल करते हुए जनवरी माह से क्रियान्वयन प्रारंभ किया जावे ।

*यह है शिक्षाकर्मियों के प्रमुख मुद्दे*

*संविलियन*– 2 वर्ष पूर्ण कर चुके समस्त शिक्षाकर्मियो का जनवरी माह से संविलियन की प्रक्रिया प्रारंभ किया जावे।

*क्रमोन्नति*– पदोन्नति से वंचित समस्त वर्ग के शिक्षाकर्मियो/ शिक्षकों के प्रथम नियुक्ति तिथि को आधार मानते हुए वेतन निर्धारित कर जनवरी माह से क्रमोन्नति वेतनमान का लाभ देने प्रक्रिया प्रारम्भ किया जावे।

*पदोन्नति*– प्राचार्य, प्रधान पाठक के साथ सभी स्तर के पदों पर जनवरी माह से समयबद्ध पदोन्नति की प्रक्रिया प्रारंभ किया जावे।

*पुरानी पेंशन* – पुरानी पेंशन बहाली के लिए जनवरी माह में ही नियम प्रावधान बनाकर आवश्यक कार्यवाही प्रारंभ किया जावे।

*वेतन विसंगति* – वेतन विसंगति स्पस्ट होने के कारण एक नोडल अधिकारी नियुक्त कर जनवरी माह से ही प्रकरण निराकृत कर भुगतान की प्रक्रिया प्रारंभ किया जावे।

*अनुकम्पा नियुक्ति* – पं/न नि में लम्बित अनुकम्पा नियुक्ति हेतु शर्ते शिथिल कर जनवरी माह से अनुकम्पा नियुक्ति प्रक्रिया प्रारंभ कर शीघ्र आदेश जारी किया जावे।

संघ का कहना है कि प्रदेश के शिक्षाकर्मी व कर्मचारियो ने कांग्रेस के घोषणा पत्र में भरोसा किया है, अतः घोषणा पत्र में प्रमुखता से शामिल विषय को जनवरी माह में निराकृत किया जावे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.