“नरवा गरवा घुरवा बारी” के थीम पर विशेष सात दिवसीय शिविर संपन्न

0
80

शास उच्च माध्यमिक विद्यालय खम्हरिया के राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई की विशेष सात दिवसीय शिविर नरवा गरवा घुरवा बारी के थीम को लेकर ग्राम पंचायत धरमपुर वि खं बागबाहरा में जिला शिक्षा अधिकारी महासमुंद बी एल कुर्रे एवं सहायक संचालक आर एम एस ए हिमांशु भारतीय ,धरम दीवान थान सिंह दीवान, विमला सूर्यकांत सरपच,परस सोनवानी ,गोरेलाल तांडे ,संतोष चंद्राकर भोज पटेल ग्राम प्रमुख, मनोज चंद्राकर के विशिष्ट आतिथ्य में तथा एस एम डी सी अध्यक्ष पुकलाल चंद्राकर जी के अध्यक्षता में संपन्न हुई। शिविर में कार्यक्रम अधिकारी नारायण चौधरी सहायक कार्यक्रम अधिकारी रोहित कुमार ठाकुर भोजराज सिदार अंजू नामदेव ,सृष्टि साहू, हेमलता पटेल मोहित यादवराजेश्वर,ओमकुमार,यशकुमार,पुकेश्वर,देवनाथ,सोनूराम, मनीष प्रमोद,कमलेश, राजकुमार,डिगेश,एसकुमार,भानूराम, गोपीराम, नंदकुमार, पुष्पराज,खिलेश,सतीश,चेतन, मुकेश,चंदन,खोमचंद,अजय, वासुदेव,डुलेश,लक्ष्मीचंद, सुनील, नीलकंठ,लोकेश, गोविंद,भार्गव, राजगिरी,भूपेश, तरुण,डोमन,बसंत, नीलकमल तुलसी,टीकम,थनेश्वर,कुलेश्वर,नीतेश, सुरेश,सुरज, अनिल, राहुल,संजय, प्रियंका,ताक्क्षी,अनिता,लक्ष्मी,किरण, त्रिवेणी, सुरुचि प्रेमकुमारी, मनीषा,लिपिका, कविता कौशल्या रितु पम्मी लोकेश्वरी ललिता देवी का हिना लिलेश्वलेवरी रंभा यमीषा कुलेश्वरी पार्वती सुनीता अमीषा यामिनी वंदना सहित कुल 64 शिविरार्थि सम्मिलित थे। शिविर में दैनिक क्रियाकलापों की शुरुआत प्रातः 5:30 बजे से बैंड बाजे के साथ उठ जाग मुसाफिर भोर भये एवं उठे समाज के लिए उठे उठे जैसे प्रेरक गीतों को गाकर प्रभात फेरी के साथ होता था । तत्पश्चात विद्यालय के व्यायाम शिक्षक भोजराज सिदार द्वारा योग एवं प्राणायाम करवाया जाता था।परियोजना कार्य के अंतर्गत शिविर के दौरान शिविरार्थियों व्दारा गांव का सर्वे कर हैंडपंप के पास सोखतों का निर्माण ग्राम गलियों की सफाई तालाब घाटों की सफाई प्राथमिक एवं उच्च माध्यमिक विद्यालय प्रांगण की सफाई ग्राम गलियों की मरम्मत कर,स्वच्छता का संदेश जन-जन तक पहुंचाया गया। शिविर के दौरान गीत,प्रेरक प्रसंग एवं नारों के माध्यम से सात दिवसीय शिविर की थीम नरवा ,गरवा, घुरवा ,बारी की दैनिक जीवन में महत्ता उपयोगिता एवं आवश्यकता पर विशेष ध्यान आकृष्ट करने का प्रयास किया गया। बौद्धिक चर्चा के दौरान प्राचार्य शा उ मा वि पटेवा समीरचंद प्रधान जी व्दारा विवेकानंद जी के जीवन पर प्रकाश डालते हुए विद्यार्थी जीवन में अनुशासन एवं अध्ययन विषय पर प्रेरणादायक व्याख्यान प्रस्तुत किया गया।
संध्या कालीन शिक्षाप्रद एवं मनोरंजक सांस्कृतिक कार्यक्रम में प्रहसन जय महाकाल,शिक्षा से अंजोर और जैसे राजा वैसे मंत्री ने दर्शकों का खूब मनोरंजन किया। छत्तीसगढ़ की सांस्कृतिक छठा बिखेरती हुई कर्मा ददरिया सुवा नृत्य ने खूब समा बांधी। तोला मोला सब ला जाना है, छत्तीसगढ़ ल कईथे संगी धान के कटोरा जैसे गीतों पर शिविरार्थियों के अभिनय एवं प्रस्तुत झांकी ने दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर हंसा रुला दिया। । जिला शिक्षा अधिकारी बीएल कुर्रे ने स्वयं सेवको की सेवा भाव की प्रशंसा करते हुए स्वामी विवेकानंद जी के आदर्श एवं सार्वभौम शिक्षा को जीवन में आत्मसात करने की बात कही। हिंमाशु भारतीय,पुकलाल चंद्राकर,धरम दीवान,थानसिंह दीवान,परसराम सोनवानी, संतोष चंद्राकर, गोरेलाल तांडेजी ने उद्बोधन में अपने अपने अनुभव को साझा करते हुए शिविरार्थियों को सत् आचरण करते हुए हमेशा परदुख एवं परहित में कार्य करते रहने कि संदेश दी।
समापन के अवसर पर सरपंच बिमला सूर्यकांत,ग्राम प्रमुख भोजराम पटेल भरत पटेल बृजलाल बरिहा,पार्वती पटेल ईश्वर पटेल बीरेंद्र साहू,अनुज पटेल,रामखिलावन साहू सचिव धीरज यादव सोमनाथ साहू प्रधानपाठक, मन्नूलाल तोडेकर, सुरेश दीवान यशवंत पटेल हेतन दीवान राधेश्याम कमार गेंद लाल सहित समस्त ग्रामवासी धरमपुर उपस्थित थे। सभी ने एन एस एस के सफाई स्वच्छता एवंरचनात्मक कार्यों की प्रशंसा करते हुए अश्रुपूरित नयनो से पुनः आगमन की न्योता देते हुए विदाई दी। कार्यक्रम प्रभारी श्री नारायण चौधरी द्वारा विशेष सात दिवसीय शिविर का प्रतिवेदन पढ़ा गया तथा सहायक कार्यक्रम प्रभारी रोहित ठाकुर एवम स्वयंसेवक प्रमोद बघेल पुकेश्वर द्वारा कार्यक्रम का संचालन किया गया। उक्ताशय की जानकारी प्राचार्य शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय खहरिया द्वारा दिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.