छ ग सहायक शिक्षक फेडरेशन ने अपनी चार सूत्रीय मांगों को लेकर प्रदेश के मुख्यमंत्री जी से मिले आश्वासन के बाद बजट से पूर्व एक बार फिर से स्मरण हेतु तीन चरणों मे अभियान चलाकर अपनी मांगों को राज्य सरकार के समक्ष रखा…बजट में मांग पुरी होने की उम्मीद

0
246

रायपुर। छ ग सहायक शिक्षक फेडरेशन ने अपनी चार सूत्रीय मांगों को लेकर प्रदेश के मुख्यमंत्री जी से मिले आस्वासन के बाद बजट से पूर्व एक बार फिर से स्मरण हेतु तीन चरणों मे अभियान चलाकर अपनी मांगों को राज्य सरकार के समक्ष रखने का प्रयास किया।
ज्ञात हो कि प्रदेश में छ ग सहायक शिक्षक फेडरेशन ने विगत दिनों प्रदेश के समस्त केबिनेट मंत्रियों से मुलाकात कर अपनी समस्याएं रखी थी।दूसरे चरण में 16 फरवरी को प्रदेश के समस्त विधायको को ज्ञापन दिया था फेडरेशन के प्रदेश अध्यक्ष ने बताया कि तीसरे चरण में प्रदेश के समस्त 28 जिलो में 19 फरवरी को जिला कलेक्टरों को माननीय मुख्यमंत्री जी के नाम ज्ञापन दिया गया है।प्रदेश अध्यक्ष मनीष मिश्रा ने कहा कि सहायक शिक्षक lb की समस्याओं के निदान के लिए हमे राज्य के मुखिया ने इस बजट में निराकरण का आस्वासन दिया था जिसके परिणाम स्वरूप फेडरेशन ने एक बार पुनः स्मरण हेतु अपनी समस्याओं को सरकार के समक्ष रखा है।श्री मिश्रा ने कहा कि प्रदेश में सहायक शिक्षको के संविलियन के दौरान वेतन निर्धारण में बड़े पैमाने में विसंगति पैदा हुई है हमारे साथी जो कि विगत 22 वर्ष से पर्याप्त योग्यता होने के बाद भी एक ही पद पर कार्य कर रहे है उनको उनकी सेवा का वाजिब हक संविलयन उपरांत नही मिल पाया है हमारे बहुत से साथी रिटायर्ड हो रहे ऐसे में सहायक शिक्षको को भारी आर्थिक नुकसान उठाना पड़ रहा है।प्रदेश में विगत कई वर्षों से सहायक शिक्षको को न तो पदोन्नति मिल पाई है न ही उनको उच्चत्तर वेतनमान मिल पाया है।वही तीन हजार से ज्यादा अनुकंपा नियुक्ति का मामला भी अधर पर अटका हुआ है फेडरेशन चाहता है कि दूरस्थ अंचलो में सेवा देने वाले सहायक शिक्षको की समस्याओं का निराकरण होना चाहिए।जैसे कि राज्य सरकार ने अपनी घोषणा पत्र में इस बात को स्पस्ट किया है कि वर्ष बन्धन समाप्त कर सबका संविलियन किया जाएगा समस्त कर्मचारियों को पर्याप्त योग्यता होने की दशा पर उच्चत्तर वेतन दिया जाएगा।हमे पूर्ण विस्वास है कि आगामी बजट में राज्य सरकार सहायक शिक्षको की समस्याओं का निराकरण कर वर्षो से वेतन विसंगति की समस्याओं से जूझ रहे सहायक शिक्षको के साथ न्याय करेगी।प्रदेश अध्यक्ष ने यह भी कहा कि राज्य सरकार प्रदेश की शासकीय स्कूलों में रिक्त पड़े हजारो प्राथमिक शालाओ पूर्व माध्यमिक शालाओ के प्रधान पाठक के पदों में सहायक शिक्षको की पदोन्नति कर रिक्त पड़े पदों की पूर्ति करने की पहल करनी चाहिए।हमने एक स्मरण कराने के उद्देश्य से तीन चरणों मे अभियान चलाकर अपनी समस्याओं को राज्य सरकार के समक्ष रखने का प्रयास किया है और प्रदेश का हजारो सहायक शिक्षक आगामी बजट को आशा भरी निगाह से देख रहा है कि इस बजट सहायक शिक्षको की समस्याओं का होगा निराकरण।
प्रदेश स्तरीय अभियान को सफल बनाने में प्रदेश उपाध्यक्ष शिव मिश्रा प्रदेश सचिव सुखनंदन यादव प्रदेश कोषाध्यक्ष अजय गुप्ता प्रदेश अनुशासन समिति प्रभारी सी डी भट्ट अस्वनी कुर्रे कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष बलराम यादव कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष सिराज बक्श प्रदेश महासचिव दिलीप पटेल कौशल अवस्थी श्रीमती प्रेमलता शर्मा रवि लोहसिह श्रीमती उमा पांडेय प्रदेश प्रवक्ता हुलेश चन्द्राकर विकास मानिकपुरी बसन्त कौशिक छोटे लाल साहू अदित्य गौरव साहू शिव सारथी बी पी मेश्राम रणजीत बनर्जी राजकुमार यादव चन्द्रप्रकाश तिवारी राजेश प्रधान श्रीमती बनमोती भोई शरण दास सहित प्रदेश पदाधिकारियो ने अहम भूमिका निभाई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.